Sunday, September 25, 2022

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का बढ़ेगा दायरा, प्रीमियम कम करने की तैयारी में सरकार

Ayushman Bharat : केंद्र सरकार आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना को विस्तार देने पर विचार कर रही है. स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी है. अधिकारियों ने बताया कि सरकार इस योजना की हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम के दायरे को बढ़ाने और नए लाभार्थियों को मामूली प्रीमियम पर इसे देने पर विचार कर रही है. साल 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस योजना की शुरुआत की थी. आयुष्मान भारत योजना का उद्देश्य उन लोगों को हेल्थ इंश्योरेंस मुहैया कराना है, जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं. ये स्कीम 10.74 करोड़ से ज्यादा परिवारों को 5 लाख का इंश्योरेंस कवर प्रदान करती है.

हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इस योजना के विस्तार के बारे में बताते हुए एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया कि हम आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना को और ज्यादा मजबूत करने की प्रक्रिया में हैं, ताकि उन सभी लोगों को लाभान्वित किया जा सके, जिन्हें इसकी काफी जरूरत है. उन्होंने बताया कि इस बात पर भी गंभीरता से विचार किया जा रहा है कि क्या भुगतान करने वालों के लिए मामूली प्रीमियम पर मिल रही सुविधा को बढ़ाया जाए, अगर ऐसा होता है तो यह वर्तमान लाभार्थियों की लिस्ट से काफी ज्यादा होगा.

मिडिल क्लास ग्रुप को भी मिलेगा लाभ

अधिकारी ने कहा कि मिडिल क्लास इनकम ग्रुप, जो जो न तो अमीर है और न ही गरीब है. इस वर्ग के अधिकतर लोगों के पास शायद किसी हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम का कवर भी नहीं होगा. इस वर्ग का एक बड़ा हिस्सा है, जिसपर ध्यान देने की जरूरत है. आयुष्मान भारत योजना फिलहाल गरीब और कमजोर वर्ग के लोगों को हेल्थ कवर प्रदान कर रही है, जिन्हें सामाजिक-आर्थिक और जाति जनगणना (SECC) और राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना (RSBY) डेटाबेस का इस्तेमाल करके पहचाना जाता है. अधिकारियों ने बताया कि हेल्थ इंश्योरेंस का प्रीमियम अभी लगभग 1200- 1300 रुपये है. केंद्र और राज्य की सरकारें इसका खर्चा 60:40 के रेश्यो में उठाती हैं.

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
Latest news
Related news