Thursday, December 1, 2022

गुजरात में नवरात्रि उत्सव पर पथराव, धार्मिक झंडे पर बवाल , दो शहरों में सांप्रदायिक तनाव

गुजरात के दो शहरों में सोमवार को सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया। खेड़ा में नवरात्रि आयोजन पर पथराव किया गया, जिसमें आधा दर्जन लोग जख्मी हो गए। दूसरी तरफ वडोदरा के सावली कस्बे में भी दो पक्ष आपस में भिड़ गए। यहां भी पथराव हुआ और कुछ गाड़ियों को नुकसान पहुंचाया गया। पुलिस ने दोनों पक्षों से 40 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

डीसीपी खेड़ा राजेश गाधिया ने बताया कि सोमवार रात उनधेला गांव में आरिफ और जाहिर नाम को लोगों की अगुआई में भीड़ ने नवरात्रि आयोजन में व्यवधान पैदा किया। बाद में उन्होंने यहां पथराव शुरू कर दिया। घटना में छह लोग घायल हो गए। डीसीपी ने कहा कि सभी लोगों की पहचान की जा रही है और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। तनाव को देखते हुए इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।

गुजरात के खेड़ा जिले के नाडियाद के एक स्कूल में गरबा कार्यक्रम के दौरान कथित तौर पर मुहर्रम की मातमी धुन बजाने का अजीबोगरीब मामला सामने आया है। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद स्कूल के टीचरों को सस्पेंड कर दिया गया है।

माँ अंबा की शक्ति तथा उपासना का पर्व नवरात्र गुजरात में बड़ी धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। नवरात्रि के नौ दिन लोग जगह-जगह गरबा नृत्य के परम्परागत परिधान रंग-बिरंगी केडियुं-धोतिया तथा चणिया-चोली पहन कर झूम-झूम कर गरबा खेलते देखे जा सकते हैं। हालांकि, बीते कुछ दिनों से कुछ जगहों के गरबा स्थलों पर गैर-हिंदुओं के प्रवेश को लेकर मारपीट और बदसलूकी की घटना सामने आ रही थीं, अब गुजरात के खेड़ा जिले के नाडियाद से यह हैरानी वाली घटना सामने आई है। इस घटना की जानकारी मिलते ही इलाके में हड़कंप मच गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, आरोप है कि नाडियाद के हथाज गांव स्थित प्ले सेंटर स्कूल में 30 सितंबर को स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में गरबा के दौरान मुहर्रम की मातमी धुन बजाकर बच्चों से डांस कराया गया। इस मामले के तूल पकड़ते ही कार्रवाई के नाम पर चार शिक्षकों को सस्पेंड कर दिया गया है।

ग्रामीणों का आरोप है कि स्कूल के टीचरों ने गरबा कार्यक्रम में मुहर्रम के ताजिया की मातमी संगीत बजवाई, जिस पर बच्चों को नृत्य करने के लिए मजबूर किया गया। जब इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा तो हड़कंप मच गया।

एक हिंदू संगठन की ओर से खेड़ा जिले के डिप्टी कलेक्टर से शिकायत करते हुए कड़ी कार्रवाई की मांग की गई है। उधर, जिला प्राथमिक शिक्षा अधिकारी ने मामला संज्ञान में आने पर आरोपी चारों टीचरों को तुरंत सस्पेंड कर दिया है।

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news