Sunday, September 25, 2022

Sleeping on the Floor : मुलायम गद्दों को छोड़ फर्श पर सोना कर दें शुरू, होते हैं ये फायदे

Sleeping on the Floor : कई बार ऐसा होता है कि रुई के मुलायम गद्दे या डनलप के गद्दे पर सोने के बाद भी आपको सुबह बहुत थकावट महसूस होती है या आपके हाथ पैर दर्द होते हैं और पीठ में दर्द रहता है। दरअसल, ऐसा आपकी स्लीपिंग पोजिशन की वजह से होता है या फिर आपका गद्दा ठीक नहीं होता है, जिसकी वजह से आपको शरीर में अकड़न और ऐंठन होने लगती है। ऐसे में आज हम आपको बताते हैं कि इन गद्दों से ज्यादा फायदेमंद जमीन पर सोना क्यों होता है और इससे आप किन किन बीमारियों से दूर रह सकते हैं….

जमीन पर कैसे सोएं 
जमीन पर सोने के लिए सबसे पहले आप जमीन को अच्छी तरह से साफ कर लें। इसपर आप एक चटाई या मुलायम सा कपड़ा बिछाकर सो सकते हैं। इस दौरान एक तकिया और अपने ओढ़ने की चादर भी अपने साथ रखें। एक्सपर्ट्स का मानना है कि जमीन पर पीठ के बल दाईं करवट लेकर सोने से अच्छी नींद आती है। वहीं, अगर आप बाई करवट लेकर सोते हैं, तो इससे पेट से जुड़ी परेशानी कम होती है। ऐसा माना जाता है कि जमीन पर सोने से ब्लड सर्कुलेशन अच्छा बना रहता है। साथ ही ऑक्सीजन की सप्लाई दिमाग तक सही तरीके से पहुंचती है। कुछ लोगों को पेट के बल सोने की आदत होती है। अगर वह जमीन पर पेट के बल सोते हैं तो इससे कमर, पीठ और कंधे के दर्द से आराम मिलता है। (Sleeping on the Floor)

जमीन पर सोने से मिलते हैं यह फायदे

पीठ दर्द होगा कम 
अगर आप जमीन पर सोते हैं तो आपको पीठ दर्द से राहत मिल सकती है, क्योंकि पीठ दर्द वाले लोगों को सख्त सतह पर सोने की सलाह दी जाती है और जमीन से ज्यादा सख्त और क्या होगा।

अच्छी नींद आए 
कई बार लोगों को अलग-अलग गद्दे पर सोने की वजह से नींद अच्छी नहीं आती है। लेकिन अगर आप फर्श पर सोना एक बार शुरू कर देते हैं तो आपको अच्छी नींद आती है। हो सकता है शुरुआत में आपको परेशानी हो, लेकिन जब आपका शरीर उसका आदि हो जाएगा तो आपको जमीन पर सोना अच्छा लगने लगेगा और आपकी नींद भी पूरी होगी।

शरीर को ठंडक दे 
फर्श का तापमान ठंडा रहता है, इसलिए अधिकतर लोग गर्मियों में जमीन पर सोना पसंद करते हैं। यह बॉडी टेंपरेचर को कम रखता है। साथ ही ब्लड सर्कुलेशन को भी बेहतर करता है।

तनाव से राहत दे 
अगर आप जमीन पर सोते हैं तो आपका दिमाग रेस्ट मोड में रहता है और आपको तनाव और एंजाइटी जैसी समस्या नहीं रहती है। इतना ही नहीं जमीन पर सोने से आपकी बॉडी का पोश्चर भी बेहतर होता है।

ऐसे लोग जमीन पर ना सोए 
जिन लोगों को कमर दर्द में गंभीर समस्या है या जिनकी कमर की सर्जरी हुई है, ऐसे लोग जमीन पर सोने से बचें। प्रेग्नेंट महिलाओं को जमीन पर नहीं सोना चाहिए। ठंड के दौरान किसी को भी जमीन पर सोने से बचना चाहिए, क्योंकि इससे सर्दी हो सकती है। बुजुर्गों को फर्श पर नहीं सुलाना चाहिए या जिन लोगों की हड्डियों में दर्द रहता है, किसी प्रकार की कोई एलर्जी है, अर्थराइटिस या ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या है ऐसे लोगों को जमीन पर सोने से बचना चाहिए। (Sleeping on the Floor)

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
Latest news
Related news