Monday, December 5, 2022

नहीं रहे वरिष्ठ पत्रकार रमेश नैय्यर , मुख्यमंत्री बघेल ने जताया दुःख

रायपुर : छत्तीसगढ़ पत्रकारिता प्रमुख स्तंभ रहे रमेश नैय्यर का निधन हो गया, बुधवार दोपहर उन्होंने अंतिम सांसें ली। उन्होंने लंबे समय तक विभिन्न अखबारों व पत्रपत्रिकाओं में अपनी सेवाएं दी। रमेश नैय्यर का जन्म10 फरवरी, 1940 को कुंजाह (अब पाकिस्तान) में हुआ था। उन्होंने अपनी शिक्षा एमए (अंग्रेजी) सागर विश्‍वविद्यालय, एमए ( भाषा विज्ञान) रविशंकर विश्‍वविद्यालय से पूरी की।

उन्होंने पत्रकारिता की शुरुआत सन् 1965 से की। नैय्यर ने ‘युगधर्म’,’ देशबंधु ‘, ‘एम.पी. क्रॉनिकल ‘और ‘ दैनिक ट्रिब्यून ‘ में सहायक संपादक तथा’ दैनिक लोकस्वर’,’ संडे ऑब्जर्वर’ (हिंदी) और’ दैनिक भास्कर’ का संपादन किया। वे आकाशवाणी, दूरदर्शन और अन्य टीवी चैनलों से वार्त्ताओं, रूपकों, भेंटवार्त्ताओं और परिचर्चाओं का प्रसारण एवं टीवी सीरियल और वृत्तचित्रों का पटकथा लेखन कार्य किया। उन्होंने पत्रकारिता और आर्थिक, सामाजिक एवं सांस्कृतिक विषयों पर राष्‍ट्रीय- अंतरराष्‍ट्रीय संगोष्‍ठ‌ियों में भागीदारी की।

वरिष्ठ पत्रकार रमेश नैय्यर ने अपने जीवनकाल में चार पुस्तकों का संपादन किया। अंग्रेजी, उर्दू और पंजाबी की सात पुस्तकों का हिंदी में अनुवाद भी किया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जताया दुःख

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वरिष्ठ पत्रकार रमेश नैयर जी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। सीएम बघेल ने कहा है कि  स्व.नैयर ने छत्तीसगढ़ के साथ-साथ राष्ट्रीय स्तर पर भी पत्रकारिता के प्रतिमान स्थापित किये हैं। उनका कृतित्व और व्यक्तित्व हमेशा हम सबका प्रेरणास्रोत रहेगा।

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news