Tuesday, November 29, 2022

RAIPUR CRIME NEWS : 4 साल पहले हुई हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, मृतका के पति सहित 3 आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। 4 वर्ष पूर्व हुए हत्या के प्रकरण का रायपुर पुलिस ने खुलासा किया है. इस मामले में मृतका के पति सहित 3 आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है. पुलिस के मुताबिक नवंबर साल 2018 में देवचंद कुर्रे ने थाना आरंग में सूचना दर्ज कराया कि उसकी पत्नि अनिता बाई कुर्रे बिना बताये घर से कहीं चली गई है जो वापस नही आयी है। जिस पर थाना आरंग में गुम इंसान क्रमांक 48/2018 कायम कर जांच में लिया गया। इसी दौरान थाना आरंग क्षेत्रांतर्गत ग्राम केशला स्थित खदान में एक नर कंकाल पाया गया।

पुलिस टीम के सदस्यों द्वारा नर कंकाल की शिनाख्तगी एवं पतासाजी हेतु थाना आरंग में पूर्व में दर्ज गुम इंसान के परिजनों को बुलाकर नर कंकाल के पास मिलें वस्तुओं को दिखाकर नर कंकाल की पहचान सुनिश्चित करने के प्रयास किये जा रहे थे। इसी दौरान गुम इंसान अनिता बाई कुर्रे के माता एवं भाई द्वारा नर कंकाल के पास मिले टूटी हुई चुड़ी, पायल एवं खिनवा को देखकर पहचान करते हुए दोनों के द्वारा नर कंकाल की पहचान अनिता बाई कुर्रे पति देवचंद कुर्रे उम्र 25 साल निवासी अमोदी थाना आरंग रायपुर के रूप में की गई। जिस पर थाना आरंग में मर्ग क्रमांक 49/2019 धारा 174 जा.फौ. दर्ज कर जांच में लिया गया। जांच कार्यवाही के दौरान नर कंकाल को परीक्षण हेतु भेजा गया।

विशेषज्ञों द्वारा परीक्षण में नर कंकाल को स्त्री का होना लेख किया गया। जिस पर उक्त स्त्री के नर कंकाल की पहचान की पुष्टि हेतु मृतिका अनिता बाई कुर्रे के डी.एन.ए. के साथ उसकी माता सुमित्रा बंजारे के डी.एन.ए. का परीक्षण कराया गया। डी.एन.ए. परीक्षण रिपोर्ट में डी.एन.ए. के आधार पर सुमित्रा बंजारे को स्त्री के नर कंकाल की जैविक माता होना पुष्टि कर लेख किया गया। किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा अनिता बाई कुर्रे की हत्या कर साक्ष्य छिपाने के नियत से उसके शव को ग्राम केशला आरंग स्थित खदान में दफना दिया गया था। जिस पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना आरंग में अपराध क्रमांक 382/22 धारा 302, 201 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट तथा थाना आरंग पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा मृतिका के पति देवचंद कुर्रे एवं उसके ससुराल पक्ष के परिजनों से विस्तृत पूछताछ करने के साथ ही आस-पास के लोगों तथा मृतिका के परिजनों से भी घटना के संबंध में विस्तृत पूछताछ करते हुये अज्ञात आरोपी की पतासाजी करना प्रारंभ किया गया।

अज्ञात आरोपी की पतासाजी के संबंध में मुखबीर लगाने के साथ ही तकनीकी विश्लेषण भी किया गया। मृतिका के पति देवचंद कुर्रे उसके परिजनों तथा मृतिका के परिजनों का पृथक-पृथक बयान लेकर पूछताछ करते हुए सभी के बयानों का कूटपरीक्षण किया गया तथा अन्य प्राप्त साक्ष्यों के माध्यम से भी अज्ञात आरोपी की पहचान सुनिश्चित करने के प्रयास किये जा रहें थें। इसी दौरान टीम के सदस्यों को मुखबीर से सूचना प्राप्त हुई की मृतिका के पति देवचंद कुर्रे को घटना की रात्रि घटना स्थल के पास स्थित तालाब में तेजराम चतुर्वेदी सहित अन्य 03 व्यक्तियों को नहाते देखा गया था। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा तेजराम चतुर्वेदी की पतासाजी कर पकड़ा गया।

प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर कड़ाई से पूछताछ करने पर तेजराम चतुर्वेदी द्वारा बताया गया कि दिनांक घटना को देवचंद कुर्रे ने उसे फोन कर कुछ सामान तुरंत घर से कहीं ले जाना है बहुत जरूरी है कहकर वाहन लेकर आने को कहा। जिस पर तेजराम चतुर्वेदी अपने क्रूजर तूफान वाहन क्रमांक सी जी 04 के वाय 3090 को लेकर देवचंद कुर्रे के घर गया जहां देवचंद कुर्रे अपने भाई देवदास कुर्रे एवं 01 अन्य के साथ मिलकर बोरी में कुछ भरकर लाये तथा बोरी को वाहन के ऊपर कैरियर में डाल दिये तथा देवचंद कुर्रे, देवदास कुर्रे एवं 01 अन्य व्यक्ति वाहन में सवार हुए तथा चारों घटना स्थल पर गये। घटना स्थल पर पहुंचने के बाद बोरी को नीचे उतारे जिस पर तेजराम चतुर्वेदी बोरी में क्या है पूछने पर देवचंद कुर्रे ने बताया कि उसने, उसके भाई तथा 01 अन्य व्यक्ति के साथ मिलकर अपनी पत्नि अनिता बाई कुर्रे की कुल्हाड़ी से वार कर तथा गमछा से गला दबाकर हत्या कर दिया है तथा बोरी में उसका शव है, जिसे ठिकाना लगाना है।

चारो आरोपी मिलकर शव को घटना स्थल में दफन कर दिये तथा चारो तालाब में नहाकर वहां से अपने घर आ गये। जिस पर टीम के सदस्यों द्वार आरोपी देवचंद कुर्रे एवं देवदास कुर्रे को पकड़ कर घटना के संबंध में कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपी देवचंद कुर्रे के द्वारा बताया गया कि वह अपनी पत्नि के चरित्र पर शंका करता था जिससे परेशान होकर आरोपी देवचंद कुर्रे द्वारा अपने भाई देवदास कुर्रे एवं 01 अन्य के साथ मिलकर अपनी पत्नि अनिता बाई कुर्रे की हत्या करने की योजना बना डाली तथा दिनांक घटना को तीनों ने मिलकर अनिता बाई कुर्रे की कुल्हाड़ी से वार कर तथा गमछा से गला दबाकर कर हत्या कर दिया एवं तेजराम चतुर्वेदी के साथ मिलकर साक्ष्य छिपाने की नियत से शव को उसके चार पहिया वाहन में भरकर ग्राम केशला स्थित खदान में दफना दिये। जिस पर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से घटना में प्रयुक्त कुल्हाड़ी, गमछा तथा 01 नग क्रूजर तूफान वाहन क्रमांक सी जी 04 के वाय 3090 जप्त कर आरोपियों के विरूद्ध कार्यवाही की गई। प्रकरण में संलिप्त 01 आरोपी फरार है जिसकी पतासाजी कर गिरफ्तार करने के हर संभव प्रयास किये जा रहे है।

गिरफ्तार आरोपी

01. देवचंद कुर्रे पिता लाला राम कुर्रे उम्र 35 साल निवासी ग्राम अमोदी थाना आरंग रायपुर।

02. देवदास कुर्रे पिता लाला राम कुर्रे उम्र 27 साल निवासी ग्राम अमोदी थाना आरंग रायपुर।

03. तेजराम चतुर्वेदी पिता बिसेसनी चतुर्वेदी उम्र 36 साल निवासी ग्राम कुसमुंद थाना आरंग रायुपर।

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news