Sunday, September 25, 2022

CG-NEWS : हॉस्पिटल में बिजली गुल , मरीज की शिकायत पर वार्डब्वाय को मिला नोटिस

दुर्ग। अस्पताल में बुनियादी सुविधाओं के लिए किसी भी प्रकार की दिक्कत मरीजों को नहीं होनी चाहिए और उनकी शिकायतों पर तुरंत अमल होना चाहिए। यह निर्देश कलेक्टर मीणा ने सुपेला स्थित लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल के निरीक्षण के दौरान दिये। निरीक्षण के दौरान उन्होंने बुनियादी सुविधाओं के बारे में मरीजों से पूछा। मरीजों ने बताया कि डाक्टर समय पर आते हैं और अच्छा इलाज करते हैं। नर्सिंग स्टाफ का व्यवहार और केयर भी बहुत अच्छा है। प्रसूति विभाग के एक मरीज ने बताया कि उनकी पत्नी की डिलीवरी हुई है। परसों रात को कुछ देर के लिए बिजली चली गई थी।

वार्डब्वाय को जनरेटर आरंभ करने कहा गया लेकिन उन्होंने देर लगाई। आधे घंटे बाद बिजली आ गई लेकिन जो असुविधा हुई, वो आपके समक्ष रख रहे हैं। इस पर कलेक्टर ने कहा कि मरीजों के परिजनों के फीडबैक पर तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए और इसमें थोड़ा भी विलंब नहीं होना चाहिए। उन्होंने अस्पताल प्रभारी डा. पीयम सिंह को उस दौरान ड्यूटी में नियुक्त वार्डब्वाय को नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। अस्पताल में ब्लड स्टोरेज यूनिट और सोनोग्राफी की सुविधा होने से काफी राहत- अस्पताल प्रभारी डा. पीयम सिंह ने बताया कि अस्पताल में ब्लड स्टोरेज यूनिट आरंभ होने और सोनोग्राफी की सुविधा शुरू होने से काफी राहत मिली है और इससे अस्पताल में सुविधाओं का विस्तार हो गया है।

नार्मल डिलीवरी के साथ ही सी-सेक्शन भी हो रहा है। नाबार्ड का 10 बिस्तर अस्पताल बनकर तैयार- कलेक्टर ने नाबार्ड का अस्पताल भी देखा जो अस्पताल परिसर में तैयार हो रहा है। इसमें दस बिस्तर होंगे। कलेक्टर ने डीएमएफ द्वारा तैयार हो रहे 20 बेड के आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण भी किया। कलेक्टर ने कहा कि जिला अस्पताल के बाद सुपेला अस्पताल में सबसे ज्यादा ओपीडी रहती है। इसके अनुरूप यहां हर संभव सुविधाएं सुनिश्चित करेंगे। जिस भी संसाधन की कमी है उससे अवगत कराएं, इसे पूरा किया जाएगा।

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
Latest news
Related news