Thursday, December 8, 2022

सोलो सिंगिंग में मास्टर दिव्यांश का जलवा, खैरागढ़ केंद्रीय विद्यालय में हुआ कल्चरल फेस्ट

खैरागढ़। केंद्रीय विद्यालय संगठन द्वारा संचालित केन्द्रीय विद्यालय खैरागढ़ में संकुल स्तरीय सांस्कृतिक उत्सव का आयोजन किया गया। इस आयोजन में मास्टर दिव्यांश कश्यप ने गायन की रोचक प्रस्तुति देते हुए एकल गायन में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। खैरागढ़ ही नही, बल्कि राजनांदगांव, कवर्धा, डोंगरगढ़ के 200 से भी ज्यादा बच्चों ने इस पूरे आयोजन में हिस्सा लिया। पेंटिंग, गायन, खेलकूद, नाटिका, नृत्य आदि विभिन्न विधाओं में बच्चों ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया।

इस प्रतियोगिता के अंतर्गत मास्टर दिव्यांश कश्यप ने एकल गायन की शानदार प्रस्तुति देते हुए प्रथम स्थान प्राप्त किया। उल्लेखनीय है कि मास्टर दिव्यांश के अभिभावक डॉ. दिवाकर कश्यप और डॉ. श्रुति कश्यप दोनों शास्त्रीय गायन के क्षेत्र में सुप्रसिद्ध नाम हैं। वे दोनों इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ में अध्यापन करते हैं। केंद्रीय विद्यालय के शिक्षकों, परिचितों के अलावा विश्वविद्यालय परिवार ने भी दिव्यांश की इस उपलब्धि के लिए शुभकामनाएं व्यक्त की है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए केंद्रीय विद्यालय के प्राचार्य एसआर कुजूर ने आयोजन की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि बच्चों में नैतिक संस्कार के विकास के लिए ऐसे आयोजनों का होना आवश्यक है। ऐसे आयोजनों से बच्चों में छिपी प्रतिभा को न केवल मंच मिलता है, बल्कि बच्चों में आत्मविश्वास का विकास होता है। कार्यक्रम का संचालन श्रावणी सिंह और मिथिलेश झोड़े ने संयुक्त रूप से किया। यह आयोजन प्रधान अध्यापिका संजुलिका जेम्स के बेहतरीन संयोजन में संपन्न हुआ। इस अवसर पर दीप्ति शर्मा, वीरेंद्र कुमार, आलोक वर्मा, सुनील कुमार, मुकेश पारधी, शुभम यादव, शक्ति सिंह, गोलेख गुप्ता, सुशील बिसेन, बड़ी संख्या में विद्यार्थी, अभिभावक समेत केंद्रीय विद्यालय परिवार मौजूद था।

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news