Tuesday, December 20, 2022

कोरबा की तनु, बॉयफ्रेंड ने ओड़िशा ले जाकर गोली मार की हत्या, लाश को जंगल में जलाया, आरोपी फरार

रायपुर : दिल्ली का श्रद्धा मर्डर केस अभी लोग भूल भी नहीं पाये थे कि छत्तीसगढ़ की एक युवती के साथ भी ऐसा ही कुछ हुआ जिसको सुनकर आपका दिल दहल जायेगा। कोरबा निवासी 26 साल की तनू कुर्रे अपने भविष्य के सपने संजोने रायपुर आई थी और एक्सिस बैंक की मोवा ब्रांच में नौकरी करना शुरू किया जहां उसकी मुलाकात उडीसा बलांगीर के कारोबारी सचिन अग्रवाल से हुई और मुलाकात धीरे-धीरे प्यार में बदल गई।

दरअसल, रायपुर के मोवा स्थित एक्सिस बैंक में कार्यरत तनु कुर्रे आखरी दफ़ा अपनी रूममेट से किसी व्यक्ति का बैंक एकाउंट खुलवा वापस आने की बात कही थी। परंतु तनु वापस ना लौटी और अब उसके बाद ओड़िशा के बलांगीर के जंगलों में उसकी अधजली लाश मिली।

पीजी नहीं पहुँची तो कोरबा से रायपुर पहुँचे परिजन

3 साल तक दोनों के बीच बहुत ही मधुर संबंध रहे। युवक सचिन बलांगीर से कारोबार के सिलसिले में रायपुर आता था और उसके रिश्तेदारों का घर पालम ब्लाजियों सोसाइटी में था जहां सचिन आकर रूकता और मृतका से मुलाकात करता था। लेकिन, 21 नवबंर 2022 को तनू कुर्रे बैंक से घर नहीं पहुंची और मोबाइल नहीं उठाने से परेशान उसके परिजन कोरबा से रायपुर पहुंचे।

लेकिन, तनू कुर्रे अपने शंकर नगर में पीजी में नहीं मिली तो परिजनों ने आसपास पतासाजी की तो पता चला कि तनू घर ही नही पहुंची है। यह सुनकर परिजन परेशान होकर मोवा थाने पहुंचे और अपनी बेटी के गायब होने की सूचना दी। घरवालों की शिकायत पर पुलिस ने 22 नवबंर को गुमशुदगी रिपोर्ट दर्जकर तलाश शुरू की।

इसी बीच उडीसा के बलांगीर जिले के तुरईकेला इलाके के जंगल में एक अज्ञात युवती की अधजली लाश मिली। जिसकी तलाश में उडीसा पुलिस ने छत्तीसगढ़ समेत पड़ोसी राज्यों से गुमशुदा इंसानों की जानकारी मांगी तो युवती की पहचान 30 नवबंर 2022 को उसके परिजनों ने तनू कुर्रे के रूप की जिसके बाद मृतका के परिजने उडीसा रवाना हो गए।

सीसीटीवी में कैद हुई तनु, सचिन के साथ जाते दिख रही

रायपुर पुलिस ने बताया कि गुमशुदगी की जांच के दौरान बैंक कर्मचारी युवती युवक सचिन अग्रवाल के साथ जाते हुए दिखाई दे रही हैं। सूत्रों के हवाले से खबर ये भी आ रही है कि मृतका को बलांगीर ले जाकर पहले गोली मारकर हत्या की गई और उसके बाद उसकी पहचान छिपाने के लिए पेट्रोल डालकर जला दिया गया। इस मामले की जांच के लिए रायपुर पुलिस की एक टीम मृतका के परिजनों के साथ उडीसा के बलांगीर के लिए रवाना हुई है।

फरार है हत्यारा सचिन

फिलहाल छत्तीसगढ़ और उडीसा पुलिस मृतका के दोस्त सचिन अग्रवाल की शिद्दत से तलाश में जुटी है। पुलिस का कहना है कि इस पूरे मामले का खुलासा सचिन की गिरफ्तारी के बाद ही हो पाएगा है।

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news