Thursday, June 20, 2024

सेक्टर 9 अस्पताल में उन्नत ऑप्टिकल बायोमेट्री, पेरीमेट्री और फेकोइमल्सी फिकेशन मशीनों का उद्घाटन

भिलाई : न्यूज़ 36 :  18 मई को जेएलएन अस्पताल में उन्नत ऑप्टिकल बायोमेट्री, पेरीमेट्री और फेकोइमल्सीफिकेशन मशीनों का उद्घाटन सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र के पं. जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय एवं अनुसंधान केंद्र, सेक्टर-9, भिलाई के नेत्ररोग विभाग में 18 मई 2024 को अत्याधुनिक ऑप्टिकल बायोमेट्री, आटोमेटेड पेरीमेट्री और फेकोइमल्सीफिकेशन मशीनों का उद्घाटन मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रभारी (एम एंड एचएस) डॉ रवींद्रनाथ एम ने किया। इस अवसर पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं विभाग के मुख्य चिकित्सा अधिकारीगण डॉ प्रमोद बिनायके, डॉ विनीता द्विवेदी और डॉ कौशलेंद्र ठाकुर तथा एसीएमओ (एम एंड एचएस) व विभागाध्यक्ष (नेत्ररोग) डाॅ जयश्री प्रधान सहित अन्य वरिष्ठ चिकित्सक और बड़ी संख्या में पैरा-मेडिकल स्टाफ उपस्थित थे।ऑप्टिकल बायोमेट्री एक नाॅन-इनवैसिव उपकरण है जिसका उपयोग मोतियाबिंद सर्जरी के दौरान प्रत्यारोपण हेतु इंट्राओकुलर लेंस की क्षमता की गणना करने के लिए किया जाता है, जो रोगियों के लिए आप्टिमल विजुअल आउटकम परिणाम सुनिश्चित करता है। आटोमेटेड पेरीमेट्री मशीन का उपयोग ग्लूकोमा और अन्य न्यूरोलॉजिकल विकारों के निदान एवं उपचार प्रक्रिया में विजुअल फील्ड परीक्षण के लिए किया जाता है।वहीं उन्नत फेकोइमल्सीफिकेशन मशीन, मोतियाबिंद के उपचार हेतु अल्ट्रासोनिक कंपन का उपयोग करती है, जिससे सर्जरी के पष्चात दु्रत रिकवरी के साथ-साथ सर्जिकल परिणामों में भी सुधार होता है।अत्याधुनिक तकनीक से युक्त, पं. जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय एवं अनुसंधान केंद्र, भिलाई का नेत्ररोग विभाग, ऑप्टिकल बायोमेट्री, ऑटोमेटेड पेरीमेट्री और फेकोइमल्सीफिकेशन नवीनतम चिकित्सा उपकरणों के प्रयोग से नेत्र संबंधी विकारों के कुषलता से निदान व समय पर उपचार सुनिश्चित करने में सक्षम होगा।

उल्लेखनीय है कि यह सुविधा चिकित्सालय में भिलाई और अन्य क्षेत्रों से आने वाले मरीजों को बेहतर निदान, सर्जरी और अन्य नेत्र-संबंधी उपचार प्रदान करके के लिए स्वास्थ्य सेवाओं को उन्नत की दिशा में जेएलएन अस्पताल का एक महत्वपूर्ण कदम है।

आप की राय

[yop_poll id="1"]

Latest news
Related news