Tuesday, November 29, 2022

बिजलीकर्मियों को मिलेगी कैशलेस सुविधा , बिजली कर्मियों के लिये बना नया मोबाइल एप- “मोर बिजली कंपनी “

13 हजार नियमित विद्युत कर्मी एवं 15 हजार पेंशनर्स के परिवारों को मिलेगी ₹4 लाख रुपए तक की कैशलेस स्वास्थ्य बीमा की सुविधा

रायपुर : छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर कंपनी के कर्मियों को बहुप्रतीक्षित कैशलेस हेल्थ इंश्योरेंस का लाभ जल्द ही मिलने लगेगा। कैशलेस हेल्थ इंश्योरेंस के लिये टेंडर जारी हो गया है। इसके लिये पॉवर कंपनी ने मोर बिजली कंपनी नाम से नया मोबाइल एप तैयार किया है। इसका विमोचन ट्रांसमिशन कंपनी के मानव संसाधन विभाग में अतिरिक्त मुख्य अभियंता के पद पर कार्यरत इंजीनियर श्री विनोद अग्रवाल एवं उनकी टीम ने किया।

अग्रवाल ने बताया कि इस मोबाइल एप को मोर बिजली कंपनी टाइप कर गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इसमें बिजली कर्मियों को उस मोबाइल नंबर से रजिस्ट्रेशन करना होगा, जिसमें उन्हें वेतन या पेंशन से संबंधित एसएमएस प्राप्त होते हैं। यदि मोबाइल नंबर और कंपनी के रिकॉर्ड से लिंक नहीं है तो एम्पलाई नंबर या बैंक खाते नंबर से भी लॉगिन किया जा सकता है। पूरी प्रक्रिया के दौरान केवल रजिस्ट्रेशन के समय ही एक बार ओटीपी मांगा जाएगा। उसके तुरंत बाद कर्मी की कुछ जानकारी दिखने लगेगी, अगर जानकारी सही है, तो कंफर्म करना होगा, जिसके बाद कर्मी को उसके परिवार की सभी जानकारियां दिखने लगेंगी।

इस एप के जरिये कर्मी तथा उसके पात्र आश्रित की बीमारी के इलाज की सुविधा मिलेगी। इसमें खर्चे का कुल रिस्क कवर 4 लाख रुपए तक होगा। नियमित कर्मचारी तथा पेंशनर दोनों के परिवारों के लिए यह योजना लागू की गई है। यदि इलाज में अधिक व्यय होता है, तो नियमित कर्मी उस अधिक राशि का भुगतान स्वयं करेंगे और जिसकी प्रतिपूर्ति (रीइंबर्समेंट) सीजीएचएस दरों पर पावर कंपनी द्वारा की जा सकेगी। टेंडर खुलने के पश्चात पावर कंपनी के निर्णय के अनुसार वार्षिक प्रीमियम का कुछ भाग (यथा 0%/ 25%/ 40% या 50%), हितग्राही के वेतन /पेंशन से कटौती योग्य होगा। कर्मियों को बीमा हेतु हितग्राहियों को अपनी निजी जानकारी अपडेट करवाना आवश्यक है ताकि कैशलेस इलाज की सुविधा मिलने में आसानी हो।

इस एप में भविष्य में वेतन, पेंशन, छुट्टियां, जीपीएफ, एनपीएस , इनकम टैक्स, टीडीएस, जीवन प्रमाण पत्र, नेटवर्क अस्पतालों की जानकारियां तथा अन्य बहुत सी सुविधाएं मिलेंगी।

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news