Monday, February 26, 2024

दुर्ग जिला अस्पताल ने रचा नया कीर्तिमान, एक दिन में 38 डिलीवरी करने वाला दुर्ग जिला बना प्रदेश का पहला हॉस्पिटल,

सीएम और स्वास्थ्य मंत्री ने दी बधाई

दुर्ग :न्यूज 36  : दुर्ग के सरकारी जिला अस्पताल अब फिर एक बार सुर्खियों में है, कारण प्रदेश का पहला अस्पताल बन गया है, जो एक दिन में 38 डिलीवरी करने का नया कीर्तिमान रचा है, वहीं इसको लेकर मुख्यमंत्री विष्णु देव साय और स्वास्थ्य मंत्री श्याम बिहारी जायसवाल ने जिला अस्पताल के डॉक्टर को बधाई दी है। दुर्ग जिला चिकित्सालय के स्त्री रोग विभाग में कुल 15 सिजेरियन प्रसव (सीजर डिलीवरी) एवं 23 नार्मल डिलीवरी संपादित की गई है। इस प्रकार एक दिवस (24 घण्टे में) कुल 38 डिलीवरी कराई गई है। जिला चिकित्सालय दुर्ग में डिलीवरी की संख्या अब मेडिकल कॉलेज स्तर के डिलीवरी की संख्या के समकक्ष है तथा अत्यधिक डिलीवरी से यह प्रदर्शित होता है कि लोग जिला चिकित्सालय दुर्ग के स्त्री रोग विभाग के सेवाओं से संतृष्ट है। दुर्ग जिला अस्पताल अब प्रदेश का पहला अस्पताल है जो एक दिन में 38 डिलीवरी का नया कीर्तिमान रचा है।वही सीएमएचओ जेपी मेंश्राम ने बताया कि जिला अस्पताल में पहले से ज्यादा अपडेट अस्पताल को किया जा चुका है। पहले यहां मदर एंड चाइल्ड यूनिट नहीं हुआ करता था,लेकिन अब यह नया मदर एंड चाइल्ड यूनिट अस्पताल खुल चुका है। इसमें काफी अनुभवी डाक्टर मौजूद है। दुर्ग मदर एंड चाइल्ड यूनिट में दुर्ग के अलावा बेमेतरा,बालोद सहित अन्य जिले से भी मरीज डिलीवरी करने जिला अस्पताल पहुंचते हैं,वही वर्तमान में 15 सिजेरियन डिलीवरी एवं 23 नार्मल डिलीवरी करने का रिकॉर्ड जिला अस्पताल ने दर्ज किया है, ऐसा करने वाला प्रदेश का पहला जिला अस्पताल बन गया है।

आप की राय

[yop_poll id="1"]

Latest news
Related news