Monday, December 5, 2022

Diarrhea in Bhilai : भिलाई में डायरिया से 2 लोगों की मौत, 70 का चल रहा इलाज

Diarrhea in Bhilai: छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले के भिलाई में डायरिया का प्रकोप देखने को मिला है, जहां दूषित पानी पीने के कारण डायरिया से ग्रस्त दो लोगों की मौत हो गई। जबकि 70 लोग अस्पताल में भर्ती हैं। दुर्ग मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर जेपी मेशराम ने बताया कि पिछले दो दिनों में बीमार होने के कारण 91 लोग अस्पताल में भर्ती कराए गए हैं, जिनमें से दो लोगों की मौत हो गई है।

उन्होंने बताया कि बीमारों को बैकुंठ धाम के शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, सदर अस्पताल, बीएम शाह अस्पताल और भिलाई के एसएस अस्पताल और पावर हाउस इलाके के अम्बे अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज जारी है।

भिलाई शहर के वृंदानगर, JP नगर, शारदापारा और न्यू संतोषीपारा कैंप क्षेत्र के आसपास डायरिया की स्थिति को देखते हुए मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी JP मेश्राम ने 60 ANM, 11 सुपरवाइजर और 03 BETO, 25 मितानिनों की डयूटी लगाई गई है। प्रतिदिन ANM गृह भेंट दो पालियों ड्यूटी लगाई गई है, जिन्हें वॉर्डवार डायरिया के मरीज को अस्पताल भेजने की व्यवस्था कर स्वस्थ्य शिक्षा और मामूली दस्त होने पर ORS घोल बनाने की विधि समेत दवा वितरण करने को कहा गया है। (Diarrhea in Bhilai)

कंट्रोल रूम की UPHC बैकुंठधाम में व्यवस्था की गई है। आपातकालीन नं. 0788-4230397 से संपर्क किया जा सकता हैं। अस्पताल में चौबीस घंटे चिकित्सा सुविधा उपलब्ध रहेगी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला दुर्ग के आदेशानुसार नोडल अधिकारियों को विभिन्न कार्याें का प्रभारी बनाया गया है। रिपोर्टिग के लिए IDSP नोडल डॉ. एस. के. मेश्राम, शहरी हमर क्लीनिक के डॉक्टरों की डयूटी लगाई गई है। प्रबंधन के लिए डॉ एस. के जामगडे की ड्यूटी औषधि और अन्य सामग्री प्रबंधन के लिए डीपीएम पद्माकर शिंदे, शासकीय और निजी संस्था की रिपोर्ट एकत्रित कर मुख्य चिकित्सा समेत स्वा. अधिकारी को करना रितिका सोनवानी एपिडेमिलाजिस्ट की ड्यूटी लगाई गई है। बता दें कि कुल 91 मरीज भर्ती हुए, उनमें से अब तक 21 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं। (Diarrhea in Bhilai)

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news