Monday, February 26, 2024

थानों के बीच स्तर पर बने ग्रुप में जुड़ेंगे आम नागरिक

भिलाई : न्यूज़36 : पुलिस ने आम लोगों से जुड़ने का अब डिजिटल तरीका अपनाया है। साइबर प्रहरी अभियान के तहत हर थाना के बीट प्रभारी अपने-अपने बीट के लोगों का एक व्हाट्सएप ग्रुप बना रहे हैं। और रोजाना उनसे साइबर अपराध और उससे बचाव की जानकारी साझा कर रहे हैं। साथ ही लोगों से यह भी अपील कर रहे हैं, कि वह अपने क्षेत्र में होने वाले अवैध गतिविधियों और अपराधों की जानकारी तुरंत साझा करें। ताकि पुलिस उस पर कार्रवाई कर सके। साथ ही कोई घटना होने से इस ग्रुप में जानकारी मिलने पर पुलिस वहां पर रिस्पांस टाइम में पहुंच भी सकेगी। बता दें कि पुलिस विभाग में पहले भी बीच प्रणाली रही है। बीट प्रणाली में थाना का कोई एक सिपाही उस बीट का प्रभारी रहता था। और अपने बीट की गतिविधियों पर नजर रखता था । इसे एक कदम आगे बढ़ते हुए तकनीक से जोड़ा गया है। अब बीट प्रभारी अपने-अपने बीट का एक व्हाट्सएप ग्रुप बना रहे हैं।

स्मार्ट पुलिसिंग में दो एप भी किए गए लॉन्च

यहां उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को दुर्ग रेंज की आएगी बद्रीनारायण मीणा और एसएसपी राम गोपाल गर्ग ने दो अहम एप त्रिंनयन और सशक्त को लांच किया था ।त्रिंनयन एक ऐसा ऐप है,जो जिले में लगे सभी सीसी टीवी कैमरा का डेटाबेस होगा। जिसमें सभी कैमरे को जोड़ा जा सकता है। इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर भी उपलब्ध कराया गया है। ताकि आम लोग अपने यहां लगे सीसी टीवी कैमरे की जानकारी इस डेटाबेस पर उपलब्ध करा सके । इस ऐप से सीसीटीवी कैमरा की संख्या और स्थान की जानकारी आसानी से मिल सकेगी। अभी तक इस ऐप से 626 सीसीटीवी कैमरे को जोड़ा जा चुका है । जिससे कोई अपराध घटित होने के बाद सीसीटीवी कैमरा को खोजने में लगने वाले समय को बचाया जा सकेगा। इस ऐप के साथ ही सशक्त ऐप को भी लॉन्च किया गया है इसमें चोरी की गाड़ियों का पूरा डाटा है।

आप की राय

[yop_poll id="1"]

Latest news
Related news