Tuesday, April 23, 2024

कोयला घोटाला : CBI ने बंगाल के कानून मंत्री मलय घटक के ठिकानों पर मारा छापा

नई दिल्ली: केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने आसनसोल में ‘ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड’ की खदानों से कथित तौर पर कोयला तस्करी के मामले में पश्चिम बंगाल के विधि मंत्री मलय घटक के परिसरों पर छापे मारे. जिसके बाद टीम वहा से रवाना हुई.

सीबीआई के अधिकारी अपने सुरक्षा दस्ते के साथ मलय घटक के घर पहुंचे और रेड की कार्रवाई शुरू की. माना जाता है कि मलय घटक बंगाल के खास नेता है और टीएमसी के महत्वपूर्ण नेता हैं.

अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि छापे कुल छह स्थानों पर मारे जा रहे हैं.

सीबीआई ने नवंबर 2020 में अनूप मांझी उर्फ लाला, ईसीएल के महाप्रबंधक अमित कुमार धर और जयेश चंद्र राय, ईसीएल सुरक्षा प्रमुख तन्मय दास, कुनुस्तोरिया क्षेत्र के सुरक्षा निरीक्षक धनंजय राय और काजोर इलाके के सुरक्षा प्रभारी देबाशीष मुखर्जी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी.

इस बीच कोलकाता से प्राप्त जानकारी के अनुसार सीबीआई के अधिकारियों ने पश्चिम वर्धमान जिले के आसनसोल में घटक के तीन मकानों और कोलकाता के लेक गार्डन इलाके में स्थित एक मकान पर छापे मारे.

सीबीआई के एक अधिकारी ने बताया, ‘उनका नाम कोयला तस्करी मामले में सामने आया, हमें यह जानने की जरूरत है कि उसमें उनकी भूमिका क्या रही ? हमारे पास घोटाले में घटक के शामिल होने के पर्याप्त सुबूत हैं.’

जिस वक्त छापे पड़े, उस वक्त घटक किसी भी मकान में नहीं थे.

उन्होंने बताया कि सीबीआई के अधिकारियों ने मंत्री के परिजन के मोबाइल फोन ले लिए और सब को आसनसोल के उनके मकान में एक कमरे में एक साथ बैठा दिया.

इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम ने दो सितंबर को मलय घटक को समन भेजा था. उन्होंने कोयला घोटाले के मामले में पूछताछ के लिए 14 सितंबर को तलब किया गया है.

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे और तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी से इससे पहले इस मामले में पूछताछ हो चुकी है. बीते दिनों ईडी की टीम ने अभिषेक बनर्जी से सात घंटे तक पूछताछ की थी.

आप की राय

[yop_poll id="1"]

Latest news
Related news