Friday, December 23, 2022

मुख्यमंत्री बघेल ने गरियाबंद को दी 219 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात, भूतेश्वर नाथ मंदिर में की पूजा-अर्चना

रायपुर :  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान गरियाबंद जिलेवासियों को कुल 219 करोड़ 47 लाख 25 हजार रूपये के 447 विकास कार्यों की सौगात दी, जिनमें 25 करोड़ 30 लाख 38 हजार रूपये के 141 कार्यो का लोकार्पण और 194 करोड़ 16 लाख 87 हजार रूपये के 306 कार्यो का भूमिपूजन शामिल हैं। 6 सितंबर को राजिम विधानसभा में मुख्यमंत्री बघेल 68 करोड़ 59 लाख 93 हजार रूपये लागत का 203 विकास कार्यो का सौगात दी। जबकि आज उन्होंने बिन्द्रानवागढ़ विधानसभा में कुल 150 करोड़ 87 लाख 32 हजार रूपये लागत के 244 विकास कार्यो की सौगात दी।

इससे पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भूतेश्वर नाथ पहुंचकर विशाल प्राकृतिक शिवलिंग के दर्शन किए। CM ने शिवलिंग में दूध, दही और जल, चढ़ाकर की पूजा-अर्चना। साथ ही प्रदेश की सुख-समृद्धि और खुशहाली की कामना की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री बघेल ने मंदिर प्रांगण में पौधारोपण भी किया। इसके बाद गरियाबंद स्थित सर्किट हाऊस में अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। इस दौरान उन्होंने महरा जाति प्रमाणपत्र को लेकर आ रही दिक्कतों को दूर करने के निर्देश दिए।

CM ने अधिकारियों से कहा गया कि सभी जगह में ये समस्या आ रही है। पिछड़ी जनजाति के भर्ती के लिए मेरिट के आधार पर पदों में भर्ती की सहमति दी है। हाट-बाजार क्लिनिक को बहुत छोटे-छोटे बाजार में न कर बड़े बाजार में करने और ओपीडी को बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। रीपा में पारंपरिक व्यवसाय से जुड़े लोगों को भी जोड़ने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं लोहार, कुम्हार समेत अन्य को जोड़ने के संबंध में भी निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि रुरल इंडस्ट्रियल पार्क स्व-सहायता समूह पर ही केंद्रीकृत नहीं होने चाहिए, यह एक्टिविटी उद्योग से संबंधित जैसे दाल, हॉलर मिल जैसे हो। इस उद्योग के संचालन के लिए चयन ऐसे व्यक्ति का करना है जो मार्केटिंग स्किल, रिस्क क्षमता वाला और जुझारू हो। मुख्यमंत्री बघेल ने अधिकारियों की समीक्षा बैठक में गौठान की स्थिति की जानकारी ली। इस पर कलेक्टर ने बताया कि गोबर खरीदी चालू है। एक्टिव किया जा रहा है। ओडिशा से लगे क्षेत्रों में अवैध शराब बिक्री पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। (CM in Bhuteshwarnath Temple)

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि यहां बहुत काम करने की जरूरत है, जंगल बहुत है सड़क, बिजली,स्कूल, पुल, पेयजल में काम करना है। बिजली विभाग के अधिकारी ने बताया कि जिले के दूरस्थ क्षेत्रो में बिजली पहुंचाने का काम किया जा रहा है। कुछ में स्वीकृति मिलने के साथ निविदा जारी है। मुख्यमंत्री ने लो वोल्टेज की जानकारी ली। इस पर अधिकारी ने बताया कि दूरी की वजह से कुछ क्षेत्रों में है। एक दो हफ्ते में ठीक किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने बिजली पहुंचाने के लिए चिन्हाकित पेड़ों की कटाई के लिए डीएफओ को निर्देश दिए। (CM in Bhuteshwarnath Temple)

मुख्यमंत्री ने पूछा – शिक्षा की स्थिति क्या है

भेंट मुलाकात कार्यक्रम गरियाबंद में अधिकारियों की समीक्षा बैठक लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने निर्देशित किया कि अधिकारी नियमित रूप से शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी लें। योजनाओं की मॉनिटरिंग करे। यह वनांचल क्षेत्र है। यहां बहुत काम करने की आवश्यकता है। बिजली,पानी,शिक्षा और स्वास्थ्य के दिशा में बेहतर कार्य करे। उन्होंने जिले में धान खरीदी, गोठान, विद्युत, लो वोल्टेज, सड़क मरम्मत, स्कूलों में शिक्षक और भवन मरम्मत, पुल पुलिया की जानकारी लेकर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शिकायत आना अच्छी बात नहीं है। ऐसा काम करें कि शिकायत की गुंजाइश न रहे। इस पर अधिकारी ने बताया कि ट्रांसफर को रोका गया है। शासन स्तर के हैं, फिर भी रिलीव नहीं किया गया है।

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news