Monday, December 5, 2022

CG – Crime : न्यायधानी के बिजली ऑफिस में 13 लाख रुपए की लूट का खुलासा, 6 आरोपी गिरफ्तार

बिलासपुर : न्यायधानी के बिजली ऑफिस में घुसकर 13 लाख से ज्यादा लूट के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। इस केस में पुलिस ने एक नाबालिग समेत 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इस पूरी घटना को अंजाम देने वाला मास्टर माइंड एक दिव्यांग बुजुर्ग है। जिसने लूटा का प्लान बनाया था और अपने साथियों के साथ इस वारदात को अंजाम दिया। मगर पुलिस इन आरोपियों तक पहुंच गई है। मामला सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र का है।

सोमवार शाम 7.15 बजे के आस-पास दयालबंद इलाके में स्थित बिजली दफ्तर में घुसकर एटीपी मशीन कर्मचारी से 4 नकाबपोशों ने चाकू की नोक पर 13 लाख 33 हजार रुपये लूट थे। घटना की सूचना पर एसएसपी पारुल माथुर सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुचे। चारो तरफ नाकेबंदी कर तलाश शुरू की गई। आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरे में भी खंगाले गए थे।

पूछताछ में ही ऑपरेटर ने एक शख्स पर संका जाहिर की थी। इसी आधार पर पुलिस ने इस घटना के मास्टर माइंड पिंटू यादव(60) को गिरफ्तार किया है। पिंटू ही इस घटना का मास्टर माइंड है। उसी की निशानदेही पर पुलिस ने अन्य 5 और आरोपियों को पकड़ा है।

आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि एक आरोपी पिंटू यादव पूर्व में लाइनमैन का काम कर चुका था। वह बिजली ऑफिस में बिजली बिल जमा करने आना जाना करता था। उसे एटीपी मशीन में मोटी रकम होने की जानकारी थी। इस वजह से वह लालच में भी आया था।

बताया गया कि बुजुर्ग एक पैर से लंगड़ा है और ठीक से चल नहीं सकता है। पूछताछ में पता चला कि उन्होंने 15 दिन पहले ही लूट की इस योजना को बना लिया था। फिर मौका मिलते ही इस पूरी वारदात को अंजाम दे दिया। उन्होंने बताया कि ऑपरेटर को डराने उन्होंने लाइटर रूपी नकली बंदूक साथ रखा था। इसके अलावा उन्होंने चाकू भी साथ रखा था। जिससे ऑपरेटर डर गया था।

11 लाख 70 हजार कैश बरामद

आरोपियों ने बताया कि लूट की घटना को अंजाम देकर सभी दयालबंद नारियल कोठी स्थित मधुमन श्मशान गृह में बैठ कर रकम को बांट लिया था। इसके अलावा ऑपरेटर से लूट हुए मोबाइल और पर्स को छीनकर एक झाड़ी में फेक दिया था। इस मामले में एक आरोपी धर्मेंद्र यादव अभी फरार है। पुलिस ने आरोपियों से लूटे गए 11 लाख 70 हजार रुपए बरामद किए हैं। पुलिस ने इस केस में मुख्य आरोपी पिंटू यादव के अलावा, राजा गोंड, विक्की सिंह, शुभम बैस, मंगल सिंह और एक नाबालिग को गिरफ्तार किया है। जबकि एक आरपी की तलाश जारी है।

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news