Thursday, December 1, 2022

BJP का दावा- मंत्री सत्येंद्र जैन को मसाज देने वाला फिजियोथेरेपिस्ट नहीं रेप का आरोपी है

नई दिल्ली: तिहाड़ जेल में सत्येंद्र जैन को मसाज देने वाला कोई फिजियोथेरेपिस्ट नहीं बल्कि रेप का आरोपी है, यह दावा बीजेपी की ओर से किया गया है। बीजेपी ने दावा किया है कि सत्येंद्र जैन को मसाज देने वाला आदमी अपराधी है और वह रेप के मामले में जेल में बंद है। बीजेपी प्रवक्ता की ओर से इस बारे में एक ट्वीट भी किया गया है। बीजेपी ने दावा किया है कि सत्येंद्र जैन को मसाज देने वाले का नाम रिंकू है और वह रेप के मामले में जेल में बंद है।

दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन का वीडियो शनिवार बीजेपी ने जारी किया था। इस वीडियो में वह तिहाड़ में मसाज कराते दिखाई दे रहे थे। इस वीडियो के आने के बाद दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि किसी की बीमारी का बीजेपी मजाक बना रही है डॉक्टर ने फिजियोथेरेपी के लिए कहा है। रेगुलर फिजियोथेरेपी की जरूरत है। किसी आदमी को चोट लगी है, डॉक्टर इलाज करते हैं और फिजियोथेरेपी करते हैं तो उसका मजाक बनाने से बीजेपी को शर्म नहीं आती है।

बीजेपी प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने मंगलवार फोटो ट्वीट करते हुए यह दावा किया कि सत्येंद्र जैन को मसाज देने वाला कोई फिजियोथेरेपिस्ट नहीं बल्कि रेप का आरोपी है। पूनावाला ने कहा कि आम आदमी पार्टी के नेताओं को इस पर जवाब देना चाहिए। सत्येंद्र जैन को लेकर इससे पहले ईडी की ओर से भी कोर्ट में यह कहा गया था कि नियमों की अनदेखी करते हुए जेल में कई प्रकार की सुविधाएं उन्हें दी जा रही हैं।

वहीं जैसे ही यह वीडियो आया उसके बाद सत्येंद्र जैन की कानूनी टीम इस मामले को लेकर कोर्ट पहुंच गई थी। अदालत ने जैन के वकीलों की याचिका पर ED से जवाब मांगा। वकीलों ने ईडी पर अदालत के आदेश की अवमानना करने का आरोप लगाया। दरअसल ईडी ने जमानत अर्जियों पर सुनवाई के दौरान ये वीडियो अदालत में पेश किए थे। ED ने कोर्ट में दावा किया था कि जैन को तिहाड़ जेल के अंदर मालिश और विशेष भोजन सहित विशेष सुविधाएं मिल रही हैं।

बीजेपी के आरोप पर आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने कहा कि बीजेपी केजरीवाल को बदनाम करने के लिए नारा लगा रही है उसके पास मुद्दा नहीं है। बीजेपी का एजेंडा है कि पांच साल कैसे अरविंद केजरीवाल को बदनाम करेंगे। बदनाम किया है, बदनाम करेंगे। सत्येंद्र जैन ने कहा कि अमित शाह जब गुजरात की जेल में बंद थे तब स्पेशल जेल बनी थी। इतिहास में किसी को ऐसा स्पेशल ट्रीटमेंट नहीं मिला। मसला यह नहीं है कि ट्रीटमेंट सत्येंद्र जैन को मिल रहा है। मसला ये है कि 4 दिसंबर को जनता बीजेपी का ट्रीटमेंट करने जा रही है।

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news