Monday, December 5, 2022

Bhanupratappur by-election : भानुप्रतापपुर उपचुनाव में कांग्रेस ने झोंकी ताकत , आज से 43 विधायकों का डेरा, एक विधायक को 2 से 8 बूथ का जिम्मा

Bhanupratappur by-election : छत्तीसगढ़ के भानुप्रतापपुर में हो रहे उपचुनाव में अपना गढ़ बचाये रखने के लिए कांग्रेस ने पूरी ताकत झोंक दी है। पूरे विधानसभा क्षेत्र को जोन-सेक्टर और बूथ में बांटकर स्थानीय नेताओं के साथ सेक्टर प्रबंधन के लिए पार्टी के 43 विधायकों को प्रभारी बनाकर चुनाव मैदान में उतारा जा रहा है। एक सेक्टर में एक प्रभारी के जिम्मेदारी में दाे से आठ बूथ की जिम्मेदारी दी गई है।

बता दें कि भानुप्रतापपुर विधानसभा में कांकेर जिले के तीन ब्लॉक के इलाके आ रहे हैं। इसमें भानुप्रतापपुर में सबसे अधिक 100 बूथ हैं। यहां पर 20 सेक्टर बनाये गए हैं। इसके राजनीतिक रूप से सबसे महत्वपूर्ण कोरर जोन के कोरर सेक्टर की जिम्मेदारी सबसे वरिष्ठ विधायक सत्यनारायण शर्मा को दी गई है। (Bhanupratappur by-election )

देखें सूची किसे कहां की जिम्मेदारी

सत्यानारायण शर्मा के साथ विधायक कुंवर सिंह निषाद को भी लगाया गया है। सेलेगांव , धनेंद्र साहू ,बैजपुरी में विधायक अंबिका सिंहदेव, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय और बेमेतरा से कांग्रेस नेता आशीष छाबड़ा भानुप्रतापपुर सेक्टर की जिम्मेदारी दी गई है।

ब्लॉक चारामा में 103 बूथ और 18 सेक्टर हैं। यहां पर एक-एक सेक्टर में दो विधायकों को लगाया गया है। उपचुनाव में भाजपा के उम्मीदवार ब्रह्मानंद नेताम का गांव इसी ब्लॉक में आता है। इसलिए यह राजनीतिक रूप से भी महत्वपूर्ण है।

चुनाव प्रचार में आदिवासी और ओबीसी विधायकाें को लगाया गया है। उनके साथ बस्तर के स्थानीय नेताओं को भी रखा गया है। तीसरे ब्लॉक दुर्गकोंदल में 61 बूथ हैं। वहां पर 12 सेक्टर बनाये गये हैं। चंदन कश्यप, इंद्रशाह मंडावी, केके ध्रुव, मोहित केरकेट्‌टा जैसे विधायकों को दुर्गकोंदल का गढ़ बचाने का जिम्मा सौंपा गया है।

पांच राजनीतिक दल और 15 निर्दलीय मैदान में

बता दें कि भानुप्रतापपुर उपचुनाव से कांग्रेस-भाजपा के अलावा तीन और राजनीतिक दल मैदान में हैं। स्क्रूटनी के बाद कांग्रेस की सावित्री मंडावी, भारतीय जनता पार्टी के ब्रह्मानंद नेताम, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के घनश्याम जुर्री, राष्ट्रीय जनसभा पार्टी के डायमंड नेताम एवं आंबेडकराईट पार्टी ऑफ इंडिया के शिवलाल पुड़ो का नामांकन को वैध पाया गया है।

इनके अलावा अकबर कोर्राम, अर्जुन सिंह, आयनुराम ध्रुव, गौतम कुंजाम, जीवन राम ठाकुर, दिनेश कुमार कल्लो, दुर्योधन दर्रो, देवप्रसाद जुर्री, नागेश कुमार माहला, प्रमेश कुमार टेकाम, बलराम तेता, महत्तम कुमार दुग्गा, रेवतीरमन गोटा, रोहित कुमार नेताम, लक्ष्मीकांत गावड़े और सेवालाल चिराम ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर नामांकन दाखिल किया है। (Bhanupratappur by-election )

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news