Thursday, December 1, 2022

गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू पर राष्ट्रीय महिला आयोग का एक्शन, कहा-माफी मांगें , सरोज पांडेय को कहा था-चार्मिंग फेस

रायपुर। छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू को राष्ट्रीय महिला आयोग( NCW) ने एक खत भेजा है। सख्त लहजे में राष्ट्रीय महिला आयोग में गृह मंत्री से माफी मांगने कहा है। दरअसल यह सारा विवाद गृह मंत्री के द्वारा सरोज पांडेय पर की गई टिप्पणी से जुड़ा हुआ है।

राष्ट्रीय महिला आयोग की तरफ से कहा गया है कि सांसद सरोज पांडेय पर दिए गए बयान के मामले को संज्ञान में लिया गया है। अब प्रदेश के गृहमंत्री को पत्र भेजकर कमेंट मामले में उनसे जानकारी मांगी गई है और आयोग की तरफ से इस मामले में माफी मांगने को भी कहा गया है। इससे पहले खराब सड़क पर सरोज पांडेय ने वीडियो बनाया था, ताम्रध्वज साहू ने इसके जवाब में उन्हें चार्मिंग फेस कहा था। ताम्रध्वज साहू ही छत्तीसगढ़ के लोक निर्माण विभाग के मंत्री भी हैं।

ये कहा था गृहमंत्री ने

गृहमंत्री ने कह दिया-…कभी चिकनी सड़कों का भी वीडियो बनाएं। सासंद के इस सड़क वाले वीडियो पर गृह और पीडब्लूडी मंत्री ताम्रध्वज साहू ने बयान देते हुए कहा था कि ‘सरोज पांडेय अपना चार्मिंग फेस दिखाते वीडियो बनाती हैं, कभी हमारी चिकनी सड़क का भी वीडियो बनाएं’। इस बयान के बाद जमकर विवाद बढ़ गया। राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने भी ताम्रध्वज के बयान की निंदा की।

सांसद ने सोनिया गांधी को लिखा था पत्र

इसके बाद आज सरोज पांडेय ने कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिख कर नवरात्रि की बधाई दी और कहा की मातृ शक्ति के आराधना के महापर्व पर आपको एक महिला और एक बेटी की मां होने के नाते पत्र लिखने को मजबूर हो गई हूं। उन्होंने लिखा कि आपके मंत्री ने भाषा की मर्यादा को लांघा है।

सरोज पांडे ने वीडियो में ये कहा था

23 सितंबर को एक कार्यक्रम में शामिल होने जा रही राज्यसभा सांसद सरोज पांडेय अचानक अकलतरा विधानसभा अंतर्गत बलोदा कोरबा मार्ग में रुक गईं। वह वहां एक रिपोर्टर की तरह हालात दिखाने लगीं। उन्होंने इसका एक वीडियो भी जारी किया। जिसमें वह सड़क के गड्ढों को दिखाते हुए कह रही हैं – पीडब्ल्यू़डी मंत्री ताम्रध्वज साहू कहते हैं कहीं रोड खराब नहीं है। मैं पीडब्ल्यूडी मंत्री को आमंत्रित करती हूं कि वो आकर इस सड़क को देखें कि किस तरह लोग गड्ढों में से गुजर रहे हैं। गड्ढे में सड़क है या सड़क में गड्ढा है कुछ समझ में नहीं आ रहा है।”

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news