Monday, December 5, 2022

FIFA world Cup 2022 : क्रिकेट के बाद अब चढ़ेगा फुटबॉल का खुमार, दिखेगा रोनाल्डो-मेसी का जादू

FIFA world Cup 2022 : ऑस्ट्रेलिया में 29 दिनों तक चला क्रिकेट का मेला संपन्न हो गया है। टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में इंग्लैंड ने रविवार (13 नवंबर) को पाकिस्तान को हराकर खिताब पर कब्जा कर लिया। क्रिकेट के मैदान के बाद अब खेल प्रेमियों को फुटबॉल के मैदान पर जादू देखने को मिलेगा। चार साल में एक बार होने वाला फुटबॉल का सबसे बड़ा टूर्नामेंट विश्व कप कतर में 20 नवंबर से शुरू हो रहा है। 28 दिनों तक चलने वाले इस टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला 18 दिसंबर को खेला जाएगा।

दुनिया के दिग्गज फुटबॉल लियोनल मेसी और क्रिस्टियानो रोनाल्डोसहित कई स्टार खिलाड़ी मैदान पर अपना जादू दिखाने को बेताब हैं। इस दौरान कई रिकॉर्ड टूटने के साथ-साथ कुछ कीर्तिमान भी स्थापित होंगे। क्रिस्टियानो रोनाल्डो और लियोनेल मेसी पांच विश्वकप खेलने वाले खिलाड़ियों की सूची में शामिल हो जाएंगे। इससे पहले मैक्सिको के एंटोनियो, जर्मनी के लोथार मथायस, मैक्सिको के राफेल मार्क्यूज और इटली के जियानल्यूगी बुफॉन पांच-पांच विश्वकप खेल चुके हैं। (FIFA world Cup 2022)

कौन तोड़ेगा मूलर का रिकॉर्ड?
2010 में गोल्डन बूट का अवॉर्ड जीतने वाले जर्मनी के थॉमस मूलर इस विश्वकप में मौजूदा खिलाड़ियों में गोल करने के मामले में सबसे आगे हैं। वह तीन विश्वकप के 16 मैचों में 10 गोल कर चुके हैं। उनसे आगे निकलने के लिए क्रिस्टियानो रोनाल्डो, लुईस सुआरेज, हैरी केन, लियोनेल मेसी, नेमार और जेम्स रोड्रिग्ज में होड़ होगी। हालांकि, विश्वकप इतिहास में सर्वाधिक गोल करने का रिकार्ड जर्मनी के मिरोस्लाव क्लोस के नाम है। उन्होंने 24 मैचों में 16 गोल किए हैं।

थॉमस मूलर: 16 मैचों में 10 गोल
जर्मनी के इस स्टार खिलाड़ी का कतर में यह चौथा विश्वकप होगा। वह भले ही इस समय फॉर्म में नहीं हैं। 2010 में दक्षिण अफ्रीका में अपने पहले विश्वकप में उन्होंने 5 गोल किए थे। यदि वह इस विश्वकप में 7 गोल करने में सफल रहते हैं तो हमवतन मिरोस्लाव क्लोस (24 मैचों में 16) गोल को पीछे छोड़ देंगे। इसके लिए उन्हें चमत्कारिक प्रदर्शन करना होगा।

क्रिस्टियानो रोनाल्डो: 17 मैच, 7 गोल
CR7 नाम से प्रसिद्ध क्रिस्टियानो रोनाल्डो का यह पांचवां विश्वकप होगा। वह 17 मैचों में 7 गोल कर चुके हैं। इसमें दो गोल पेनाल्टी पर दागे। 2006 से लगातार हर विश्वकप में खेलने वाले रोनाल्डो 117 अंतरराष्ट्रीय गोल कर चुके हैं। वह ज्यादा से ज्यादा गोल कर अपनी कप्तानी में पुर्तगाल को पहला विश्व खिताब दिलाना चाहेंगे।

लुईस सुआरेज: 13 मैच, 7 गोल
1930 में फुटबाल का पहला विश्व खिताब जीतने वाले उरुग्वे के लुईस सुआरेज का यह अंतिम टूर्नामेंट हो सकता है। 35 वर्षीय यह स्टार मौजूदा खिलाड़ियों में विश्वकप में सर्वाधिक गोल (7) करने के मामले में रोनाल्डो के साथ संयुक्त रूप से दूसरे नंबर पर हैं। सुआरेज को म्यूलर से आगे निकलने के लिए तीन और महान खिलाड़ी पेले (12 गोल) की बराबरी के लिए पांच गोल की जरूरत होगी।

लियोनेल मेसी: मैच 19, गोल 6
अर्जेंटीना के स्टार स्ट्राइकर लियोनेल मेसी का भी यह अंतिम टूर्नामेंट हो सकता है। 2006 से प्रत्येक विश्वकप में खेलते आ रहे मेसी की कप्तानी में अर्जेंटीना ने 2014 के फाइनल में प्रवेश किया था, जिसमें उसे फाइनल में जर्मनी से हार मिली थी। मेसी इस बार ज्यादा से ज्यादा गोल कर टीम को विजेता बनाने का प्रयास करेंगे।

हैरी केन, नेमार और रोड्रिग्ज : 6 गोल
इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन इस बार अपना दूसरा विश्वकप खेलने जा रहे हैं। उन्होंने 2018 में रूस में छह मैच खेलते हुए छह गोल किए थे। 29 वर्षीय इस खिलाड़ी के पास मौजूदा खिलाड़ियों का रिकॉर्ड तोड़ने के साथ ही अन्य कीर्तिमान बनाने का भी अवसर होगा। सक्रिय रूप से फुटबॉल खेलने वाले कोलंबिया के जेम्स रॉड्रिग्ज ने 2014 में 6 गोल किए थे। वहीं, ब्राजील के स्टार स्ट्राइकर नेमार दो विश्वकप में छह गोल कर चुके हैं। (FIFA world Cup 2022)

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news