Thursday, December 8, 2022

छत्तीसगढ़ में ED ने IAS समीर बिश्नोई समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया

रायपुर: ED ने छत्तीसगढ़ के IAS समीर बिश्नोई समेत तीन आरोपियों को 25 रूपये प्रति टन रिश्वत (कमीशन ) मामले में गिरफ्तार किया। वही समीर बिश्नोई के साथ सुनील अग्रवाल और सुर्यकांत तिवारी के अंकल लक्ष्मीकांत तिवारी की भी गिरफ्तारी हुई है। IAS रानू साहू को पूछताछ के लिये पेश होने के लिये कहा गया है। बताया जा रहा है कि कुछ कारोबारियों को पूछताछ के लिए उपस्थित होने का ईडी ने नोटिस दिया है। कोयला कारोबार से जुड़े सुनील अग्रवाल, शराब कारोबारी प्रिंस भाटिया के ठिकानों पर जांच चलती रही। यहां से ईडी की टीम को मनी लांड्रिंग से जुड़े दस्तावेज मिले हैं।

कारोबारियों ने शैल कंपनी में निवेश दिखाकर करोड़ों रूपए की हेराफेरी की है। कोलकाता और ओडिशा की शैल कंपनी के दस्तावेज जब्त किए गए हैं, जिसकी जांच ईडी की टीम करेगी। गौरतलब है कि राज्य के खनिज विभाग ने जुलाई में कोयला कारोबार से जुड़ी कुछ कंपनियों में गड़बड़ी मिलने के बाद पुलिस ने प्रकरण दर्ज कराया था, जिसके आधार पर ईडी ने बड़ी कार्रवाई की है। छत्तीसगढ़ के कई शहरों में मंगलवार तड़के से ही ईडी की कार्रवाई जारी है।

इस दौरान ईडी ने एक IAS अफसर के घर से करीब चार करोड़ रुपये की नकदी, सोना, करोड़ों की ज्वैलरी और दस्तावेज बरामद किए हैं। हालांकि यह नहीं बताया गया है कि ये सब सामान कहां से बरामद किया गया है। कहा जा रहा है कि CRPF के करीब 200 जवान और छत्तीसगढ़ पहुंच गए हैं। रायपुर के अलावा रायगढ़,बिलासपुर, कोरबा में भी कार्रवाई जारी है। ईडी के टारगेट में कोयला और रेत का कारोबार करने वाले लोग ज्यादा हैं।

आप की राय

क्या सड़क हादसों को रोकने के लिए नियम और सख्त किए जाने चाहिए?
×
Latest news
Related news